इस दरगाह में माथा टिका कर किन्नर भी दे रहे है बच्चों को जन्म,

दुनिया में हर एक इंसान को बहुत सारे सुख मिलते हैं। परंतु कहा जाता है कि हर एक लड़की का सपना होता है कि वह मां जरूर बने और मां बनते समय जो सुख उसे मिलता है वह सुख दुनिया का सबसे बड़ा सुख उसके लिए हो जाता है। इन बात से हम सब भली भांति परिचित है कि हर एक स्त्री को मां बनने का सुख कभी मिलता है और कभी नहीं मिलता है। परंतु किन्नरों को यह सुख प्राप्त नहीं होता है क्योंकि ना तो वह स्त्री होते है और ना ही वह पुरुष होते हैं। इसलिए उन्हें बच्चों को जन्म देने का सुख प्राप्त नहीं होता है। पर आज जो बात हम आपको बताने जा रहे हैं वह सुनकर आप हैरान हो जाएंगे। कि एक ऐसा भी मंदिर है जहां पर मात्र आशीर्वाद लेने से किन्नर भी बच्चे को जन्म दे देते हैं।

आप सबने राजस्थान का नाम तो सुना ही होगा वहां के अजमेर जिले में मोहम्मद शरीफ की दरगाह है। जहां पर लोगों ने कई चमत्कार होते देखे हैं यहां पर हजारों की भीड़ में लोग आते हैं और अपनी मन्नत को पूरी होने की विनती यहां पर करते हैं। काफी लोगों की मन्नतें यहां पर पूरी भी होती है। इसलिए लोगों की आस्था इस दरगाह के साथ जुड़ी हुई है। ऐसे में सबसे ज्यादा गहरी आस्था किन्नरों की यहां पर जुड़ी हुई है जिसकी वजह से वह यहां पर आते हैं।

अजमेर में एक दरगाह है जहां पर बहुत सारे किन्नर आते हैं उस जगह का नाम है मीरां सैयद हुसैन खिंहगसवार की दरगाह। जहां पर कई तरह के चमत्कार होते हैं। यहां पर एक लाल बूंदी का पेड़ है जो कि बहुत ही करिश्माई पेड़ माना जाता है। इस पेड़ का फल जो भी खाता है उसे संतान जरूर प्राप्त होती है ऐसे में एक किन्नर ने यहां के फल को खाया था। जिसके बाद उसने एक लड़के को जन्म दिया था। हैरान कर देने वाली बात यह है कि एक किन्नर ने जिस संतान को जन्म दिया वह कोई किन्नर नहीं बल्कि एक लड़का था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »