बेटी के निकाह के कार्ड पर इस मुस्लिम पिता ने छपवाई भगवान गणेश की तस्वीर, कायम की मिसाल

देश में बिगड़ते माहौल के पीछे कुछ असामाजिक तत्व लगातार देश का अमन-चैन बिखेरने की कोशिश कर रहे हैं। दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से जो धर्म के नाम पर आंतक मचा है, उसके पीछे कई ऐसे लोग जिम्मेदार हैं। सांप्रदायिक तनाव के कारण कई निर्दोष लोगों की जानें जा चुकी है,बेटी के निकाह के कार्ड पर इस मुस्लिम पिता ने छपवाई भगवान गणेश की तस्वीर।

दंगाई हिंदू-मुस्लिम की तर्ज पर अपनी खुन्नस निकाल रहे हैं। कई मुस्लिम परिवारों को रातों-रात अपने घर खाली करने पर मजबूर किया गया है। ऐसे में कई ऐसे हिंदू धर्म के लोग हैं जो अपने मुस्लिम भाईयों की रक्षा के लिए आगे आए हैं। अधिकतर दिल्लीवाले चाहते हैं कि सभी मिल-जुल कर एकता और भाईचारा बनाकर रहें। ऐसे ही एक भाईचारे की मिसाल पेश की है मेरठ के एक पिता ने।

दिल्ली से 60 किलोमीटर दूर मेरठ से एक अनोखा मामला सामने आया है। यह मामला सांप्रदायिक एकता का संदेश है। यहां एक मुस्लिम परिवार ने अपनी बेटी के निकाह पर एक कार्ड छपवाया है। इस कार्ड पर मुस्लिम परिवार ने भगवान गणेश और राधा-कृष्ण जी की तस्वीर छपवाई है।

मुस्लिम परिवार द्वारा एक हिंदू देवता का तस्वीर छपवाने के कारण यह चर्चा का क्रेंद्र बना हुआ है। हर लोग इस परिवार की प्रशंसा कर रहे हैं। इस निकाह के कार्ड को सोशल मीडिया पर जब शेयर किया गयाा तो यह वायरल हो गया। दंगों के इस माहौल में इस तरह का कदम उठाना एक सराहनीय कदम है जिसकी सोशल मीडिया पर हर कोई प्रशंसा कर रहा है।

यहां का है ये मामला

एक मुस्लिम परिवार द्वारा अपनी बेटी के निकाह के कार्ड पर हिंदू देवी-देवताओं, राधा-कृष्ण और भगवान श्रीगणेश की तस्वीरें छपवाने का ये मामला मेरठ के हस्तिनापुर का है। खबरों के अनुसार, मोहम्मद शराफत ने जहां अपनी बेटी के निकाह के कार्ड पर हिंदू देवताओं की तस्वीर छपवाई वहीं कार्ड के दूसरी ओर तरफ चांद मुबारक भी लिखा हुआ है।

मोहम्मद शराफत की बेटी का निकाह आगामी 4 मार्च को होने जा रहा है। उन्होंने अपनी बेटी के निकाह के दो कार्ड छपवाए हैं। उनके मुताबिक, एक कार्ड में उन्होंने भगवान गणेश और राधा-कृष्ण की तस्वीर अंदर छपवाई हुई है। उन्होंने यह कार्ड हिंदू परिवारों को आमंत्रित करने के लिए छपवाया है। वहीं दूसरे कार्ड में चांद मुबारक लिखा हुआ है, ये कार्ड उन्होंने मुस्लिम परिवारों के लिए छपवाया है। इस कार्ड की तस्वीर मुकेश सिद्धार्थ नाम के एक शख्स ने सोशल मीडिया पर शेयर की है।

उन्होंने इस तस्वीर के साथ अपनी पोस्ट में लिखा है कि, इस कार्ड को हस्तिनापुर के मोहम्मद शराफत भाई ने अपनी बेटी के निकाह के कार्ड में जहां हिंदू देवताओं की तस्वीर छपवाई है, वहीं दूसरी ओर उन्होंने कार्ड पर चांद मुबारक भी लिखवाया है। इस तरह उन्होंने गंगा-जमुनी तहज़ीब को दर्शाया है। सिद्धार्थ की मानें तो भारत में कुछ लोग इस तहज़ीब को तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। जबकि इसी तहज़ीब के चलते भारत में एकता की खूबसूरती छिपी है। इसे बचाने का प्रयास सबको करना होगा।

सोशल मीडिया पर लोगों के रिएक्शन

सोशल मीडिया पर इस कार्ड को देखते ही, लोगों ने इस कार्ड को इतना शेयर किया कि यह वायरल हो गया। लोग इस कार्ड की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। मोहम्मद शराफत भाई के इस कदम की लोग जमकर प्रशंसा कर रहे हैं। लोग दिल्ली में चल रहे सांप्रदायिक तनाव के बीच ऐसे कार्ड के आने को एकता का प्रतीक कह रहे हैं। लोग जमकर कमेंट्स कर रहे हैं कि भारत की असली खूबसूरती, असली एकता ये है, न कि वो जो कुछ कट्टर पंथी लोग दिल्ली में कर रहे हैं। यह कार्ड उन सभी दंगाईयों के मुंह पर एक करारा तमाचा साबित हो रहा है जो हिंदू-मुस्लिम की तर्ज पर देश का बंटवारा करना चाह रहे हैं। जो देश की एकता, चैनो-अमन और निर्दोष लोगोंं के अस्तितव को मिटाना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »