इस देश में गलती से भी न जाएं पुरुष

शायद ही आपको इस बात पर यकीन आये की आज के समय में भी किसी को गुलाम बनाया जा सकता है. और वह भी महिलाओं द्वारा पुरुषों को. आजतक आपने सिर्फ महिलाओं पर होने वाले अत्याचाओं के बारे में ही सुना होगा, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पुरूष महिलाओं की गुलामी करते हैं.

कुछ देशों में आज भी जारी है गुलाम प्रथा

जी हां, आज के दौर में, लगभग हर देश में जहां महिलाओं और पुरुषों को सामानाधिकार प्राप्त हैं, वहां कुछ ऐसे देश भी हैं जहां अब तक गुलाम प्रथा जारी है. अक्सर गुलाम प्रथा का नाम सुनते ही आपके मन में पहला विचार महिलाओं के प्रति होते आ रहे अत्याचारों की ओर जाता होगा. आप शायद सोच भी नहीं सकते कि एक ऐसी जगह भी हैं जहां गुलामी से ग्रस्त होने वाले लोग पुरुष हैं. इतना ही नहीं, इन पुरुषों को किसी और ने नहीं बल्कि महिलाओं ने गुलाम बना रखा है. आइए जानते हैं इस अनोखी जगह के बारे में.

अंडरवर्ल्ड किंगडम में होती है गुलामी

इस देश का नाम है अंडरवर्ल्ड किंगडम. यूरोप का यह छोटा सा देश है जो वर्ष 1996 में यूरोपियन देश चेक रिपब्लिक से विभाजित होकर स्वतंत्र राष्ट्र बना, लेकिन इसे अभी तक किसी भी राष्ट्र ने देश का दर्जा नहीं दिया है. यह एक छोटा सा देश है जोकि सिर्फ 7.4 एकड़ में फैला हुआ है. इस देश में ऐशो आराम, व्यापार और रोज़गार की सभी सुविधाएं मौजूद हैं. इस देश में आलिशान होटल, नाइट क्लब आदि भी हैं, लेकिन वहां पुरुष बिना किसी महिला की आज्ञा के प्रवेश नहीं कर सकते हैं.

यहां मूल नागरिक सिर्फ महिलाएं हैं

इस देश की सबसे खास बात ये है कि यहां की मूल नागरिक सिर्फ महिलाएं ही हो सकती हैं और पुरूष के कोई मौलिक अधिकार नहीं हैं. चौकाने वाली बात यह है कि यहाँ पुरूषों को महिलाओं के कहे मुताबिक ही हर काम करना पड़ता है. न करने पर उन्हें सज़ा दी जाती है और अक्सर कोड़े लगाए जाते हैं. कभी-कभी तो महिलाओं के खिलाफ आवाज़ उठाने पर पुरुषों के प्राइवेट पार्ट्स तक काट दिए जाते हैं.

इस देश की रानी है पैट्रिसिया-1

इस देश की रानी पैट्रिसिया-1 हैं, जिसका यहां एकमात्र राज चलता है. आप कह सकते हैं कि यह देश एक महिला प्रधान देश हैं जहां के नियम महिलाओं से शुरू होते हैं और उन पर ही खत्म. कई लोग इस जगह पर जाने भर से कतराते हैं.

पुरुषों को बनना पड़ता है रानी का सिंहासन

इस देश में आए दूसरे देशों के पुरुषों को रानी का सिंहासन बनना पड़ता है यानी कि रानी पुरुषों को सोफा बनाकर उन पर बैठती है. इतना ही नहीं, यहां पुरूष को शराब का सेवन करने से पहले अपना आका यानी मालकिन के चरणों में शराब चढ़ानी पड़ती है तभी गुलाम शराब का सेवन कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »